मोबाइल धीरे चार्ज होने के मुख्य दस कारण|

दोस्तों आज के समय में इन्सान भूख प्यास बर्दाश्त कर के तो दो चार दिन निकाल सकता है लेकिन अगर उसका स्मार्ट फोन उस से दूर कर दो तो एक या दो घंटे में ही बेचेन हो जाता है| अब इस आदत को एक एडिक्शन कहें या क्रेज़ पर जो भी है यह आज की रियालिट है| अब फोन हद से ज्यादा उपयोग होगा तो उसको चार्ज भी अधिक बार करना पड़ेगा| और जब ऐसा बार बार करना पड़े तो फ़ोन की बेटरी और मोबाइल की सर्किट पर भी धीरे धीरे असर पड़ने लगता है| पुराने फ़ोन में mobile slow charging की दिक्कत आम है|

अब नया फ़ोन है तो दिक्कत नहीं होगी लेकिन फ़ोन जैसे जैसे पुराना होने लगता है तो mobile slow charging की दिक्कत होने लगती है|  इस छोटे से आर्टिकल में हम आप को ऐसे दस possible कारण बताने जा रहे हैं जिनके चलते आप का फ़ोन कम गति से चार्ज होने की शिकायत हो सकती है|

मोबाइल धीरे चार्ज होने के मुख्य दस कारण

1.  फ़ोन का कनेक्टर या चार्जिंग pin का ख़राब होना

पावर जब चार्जर से होते हुए फोन तक जाती है तो ऐसे में उसे जिस root से गुज़ारना पड़ता है| उसमें से एक भी पुर्जा कमज़ोर या ख़राब हुआ तो ऐसे में मोबाइल बड़ी धीमी गति से चार्ज होता है|

जिस कारण फ़ोन में दूसरी कई तरह की समस्याएँ भी उत्पन्न हो सकती हैं| फ़ोन अगर सही गति से चार्ज नहीं हो रहा है तो समझ लीजिये mobile slow charging का issue दूर करने के लिए उसे किसी टेक्नीशियन के पास ले जाने का सही समय आ चूका है|

और अगर आप खुद दूसरा चार्जर लगा कर या फ़ोन से सोकेट की मरम्मद कर के उसे दुरुस्त कर लेते हैं तो तुरंत यह कार्य कर लेना चाहिए| ताकि फ़ोन में कोई गंभीर समस्या ना हो जाये|

2. फ़ोन में पुरानी या क्षतिग्रस्त बेटरी इस्तमाल करना

फूली हुई बेटरी या बिगड़ी हुई बेटरी के कारण mobile slow charging की समस्या होना आम बात है| ऊपर से ऐसा ख़राब पुर्जा ओवर हिट होने के कारण फट भी सकता है|

तो समझदारी इसी में है की, या तो फ़ोन अधिक इस्तमाल ना करें| या फिर नयी बेटरी orignal वाली लगवा लें| ऐसा करने से आप के फ़ोन की और आप की सलामती बढ़ जाती है और जल्दी मोबाइल चार्ज होने से बिजली का भी बचाव होता है|

3. धुल मिट्टी वाला यु एस बी खाचा

दोस्तों कोई भी वस्तु हों, कोई जगह हों या फिर हमारा शरीर हों सब को साफ़ रखने का बड़ा महत्त्व है|

अगर आप चार्जर लगा रहे हैं तो साथ में अपने फ़ोन के charging स्लॉट और चार्जर के मुहाने पर हलकी सी फूंक मार लेने में कुछ ज्यादा टाइम नहीं जायेगा|

यह एक छोटी सी आदत आप के फ़ोन को mobile slow charging के बड़े issue से बचा सकती है|

4. ख़राब गुणवत्ता वाले चार्जर से फ़ोन चार्ज करना

हर एक चीज़ की एक्सपायरी होती है| और दूसरी बात यह की, जितना पैसा में जैसा मिल सकता है उसका काम भी वैसी ही क्वालिटी का होता है|

मतलब की कंपनी नें 150 रुपये वाला चार्जर बाज़ार में उतार रक्खा है और आप पैसे बचाने के चक्कर में 50 वाला चाइनिस चार्जर उपयोग करते हैं तो उसका खामियाज़ा 100% आप के 12 या 15 हज़ार के मोबाइल को उठाना पड़ेगा|

ऐसी बेवकूफी की वजह से फ़ोन ख़राब हो सकता है अथवा उसमें mobile slow charging का issue हो सकता है|

5. किसी भी सपोर्टेड चार्जर या अन्य सोर्स से फ़ोन चार्ज कर लेना

समय बदल रहा है| घर पर तार के ज़रिये आने वाली बिजली से तो हम अपना फ़ोन चार्ज कर ही लेते हैं लेकिन, अब मार्केट में ऐसे स्कूटर और लैपटॉप कम्प्यूटर भी आ गए हैं जहाँ पर plugin कर के हम अपना फ़ोन चार्ज कर लेते हैं|

अगर आप भी ऐसे नॉन रेग्युलर charging सोर्स से अपने स्मार्ट फ़ोन को चार्ज कर रहे हैं तो आप का mobile slow charging का शिकार हो सकता है| कई लोग वायर लेस चार्जिंग से भी अपना फ़ोन चार्ज करते हैं| इस कारण से भी फ़ोन के परफोर्मेंस पर बुरा असर पड़ सकता है|

6. फ़ोन को चार्ज करते समय उस पर बात करना

कोई कोई लोग बहुत बातूनी होते हैं| और कई लोग इतने बिजी भी होते हैं की उन्हें हर वक्त फ़ोन से चिपके रहना पड़ता है जिस कारण मोबाइल चार्ज करने का समय नहीं रहता है|

और जब important कॉल आता है तो charging करते समय भी उस पर बात करना ज़रूरी बन जाता है| अब दोस्तों कोई काम आप की जान से तो ज़रूरी नहीं होता है| चालू इलेक्ट्रिक सप्लाय जब आप के फ़ोन की बेटरी में जाता है तो वह काफी एक्टिव होता है|

और इस कारण बड़े भयानक अकस्मात् भी हो जाते हैं| तो इस आदत को छोड़ ही दें तो अच्छा है| और इस बुरी आदत के चलते mobile slow charging का issue भी होने लगता है|

7. फ़ोन चार्ज करते समय उसे लगातार ऑपरेट करना

आजकल हर छोटी बड़ी बात सोशल मिडिया पर साझा होती है| अब इस काम के लिए मार्केट में अनगिनत एप्स मौजूद है| किस फ्रेंड नें क्या पोस्ट किया| किस दुश्मन नें हमें क्या सुनाया| किस को कब क्या जवाब देना है|

कब किस अंजान ऑनलाइन दोस्त का हैप्पी बर्थ डे है| इन्ही सभी फालतू कामकाजों में हमारी नयी पीढ़ी व्यस्त है| और यह सब करने के चक्कर में फोन चार्ज करते समय उसे ऑपरेट करना पड़ता है जिस कारण mobile slow charging का प्रॉब्लम सिर उठाता है|

8. चार्जिंग करते समय ब्लूटूथ या वाईफाई ऑन रखना

अगर आप नें फ़ोन चार्जिंग पर लगा रक्खा है तो उस समय सभी एप्स और ब्राउज़र बंद कर दीजिये| साथ में इन्टरनेट को कनेक्ट करने के लिए डाटा प्लान या wifi लगा रखा है तो उसे भी charging के दौरान ऑफ कर दीजिये|

ऐसा करने से फ़ोन के operating system को बल कम लगाना होगा जिस से पॉवर की खपत कम होगी और charging भी तेज़ी से पूरा हो सकेगा| ठीक इसी तरह ब्लूटूथ भी बंद ही रखें| इन सभी चीजों का ध्यान देंगे तो mobile slow charging की समस्या कभी नहीं होगी|

9. फ़ोन को चार्ज पर लगा कर भूल ही जाना

कई लोग रात को फ़ोन चार्ज में लगा कर घोड़े बेच कर सो जाते हैं| और सुबह में जब उन्हें नहाते समय याद आता है की फ़ोन तो 10 घंटे से चार्ज पर लगा है तो टावल लपेट फ़ोन की और दौड़ लगाते हैं|

अब जल्दी कर के क्या फायदा यार जो नुक्सान इतने घंटो से चल रहा है वह तो अपना काम कर चूका है| अब तो उसी दिन की राह देखनी है जब फ़ोन की बेटरी या सर्किट जवाब दे देगी|

इस लिए ऐसी आदतों से बचना चाहिए| कई बार electronic device में छोटे छोटे damage लंबे समय में बड़ा नुक्सान देते हैं|

जिस फ़ोन को हद से ज्यादा चार्ज करा जाता है उसमें mobile slow charging की शिकायत भी पायी जाती है|

10. बहुमुखी चार्जिंग यंत्र

आज के समय में कम दाम और अधिक काम देने वाली चीजों को अधिक प्राथमिकता देने का गलत चलन है| दोस्तों एक बात हमेशा ध्यान रखिये सस्ती चीज़ छोटी अवधि में फायदा दे सकती है लेकिन लंबी सोचें तो नुक्सान का सौदा ही होती है|

जब कोई उत्पादक सस्ती चीज़ बनाएगा तो उसमें कम गुणवत्ता वाले पुर्जे लगाएगा| और ऐसी चीजें या तो खुद जल्दी ख़राब होंगी या आप के मोबाइल की बेंड बजा देंगी|

युनिवेर्सल चार्जिंग अडाप्टर का भी कुछ ऐसा ही मामला है| आप एक घडी ले कर नार्मल चार्जर से फ़ोन चार्ज करें| और फिर universal charger से दूसरी बार charging करें|

दोनों बार के समय की तुलना करने पर फर्क आपको खुद को ही समझ आ जायेगा|

Mobile slow charging पर final words

अधिक फेसेलिटी के चक्कर में कभी भी सस्ता फोन ना खरीदें| हो सके तो जानी मानी ब्रांड के बेस्ट सेलर फ़ोन पर ही पैसा लगायें| ताकि ज्यादा रिसर्च किये बिना आप एक अच्छा चलने वाला मोबाइल पा सकें| फ़ोन को 90% चार्ज होने पर डिस्चार्ज कर दें|

अगर आधा charging फ़ोन में बचा हुआ है तो उसे चार्ज पर ना लगायें| करीब 20% तक आने पर फ़ोन चार्ज पर लगायें| जब फ़ोन में 2 से 5 प्रतिशत charging बची हों तब उस पर कॉल या नेट सर्फिंग करने से बचें| ऐसी सिचुएशन में transmitting तरंग का process बहुत एक्टिव हो जाता है|

जो सेहत के लिए अच्छा नहीं होता है| एक या दो साल फ़ोन इस्तमाल कर लेने के बाद जब भी उसकी बेटरी बिगड़ने लगे तो उसे तुरंत रिप्लेस कर दीजिये| हलकी कम्पनी के चार्जर और फ़ोन बेटरी से दुर ही रहें| सुरक्षित रहें अच्छा प्रोडक्ट इस्तमाल करें|

तो दोस्तों mobile slow charging और मोबाइल सेफ्टी से जुड़ा यह छोटा सा आर्टिकल आप को कैसा लगा यह कमेंट बोक्स में अवश्य बताएं| और अगर इस topic से जुड़ा कोई भी प्रश्न या कोई advice आप के पास है तो हमारे साथ शेयर ज़रूर करें|

हमारे ब्लॉग को सबस्क्राइब करना भूलें नहीं| और पोस्ट अच्छी लगे तो इसे शेयर ज़रूर करें| धन्यवाद|

Leave a Comment