वेबसाइट को Search Engine में First Rank में कैसे लाये – Top 10 On Page SEO Techniques

Blogging में  सक्सेस होना है तो आपको जदा ट्रैफिक सर्च इंजन से आना चाहिए। और सर्च इंजन से ट्रैफिक लेन के लिए आपका ब्लॉग सर्च इंजन में फर्स्ट पेज में शो होना चाहिए जिसे विजिटर्स उस पर  क्लिक कर सकेंगे।ब्लॉग को सर्च इंजन में फर्स्ट पेज मी लेन के लिए आपको कुछ एसईओ की तकनीक होती है जिसे आपको फॉलो करना चाहिए। सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन मी ऑन पेज एसईओ और ऑफ पेज एसईओ भी होता है। इस पोस्ट में मैं आपको ऑन पेज एसईओ के बारे में बताऊंगा।
साइटमैप क्या है और अपने ब्लॉग के लिए साइटमैप कैसे बनाएं

ऑन पेज SEO क्या है?

हम अपने साइट में जो भी बदलाव या कस्टमाइज करते हैं ताकी हमारी साइट फर्स्ट पेज पे शो हो | उसे सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) कहते है। और एसईओ दो  तरह का होता है Onpage SEO और OFFPAGE seo आता है। ऑन पेज एसईओ का मैटलैब है की हम अपने पोस्ट और अपनी साइट के कंटेंट को किस तरह से ऑप्टिमाइज करें पहली रैंकिंग मुझे ला सके।
बैकलिंक क्या है और ये एसईओ के लिए क्यों महत्वपूर्ण होती है
पृष्ठ पर एसईओ तकनीक हम क्यू का प्रयोग करें कर्ण चाहिए?
सर्च इंजन में हमारा ब्लॉग टैब हाय फर्स्ट पेज पे आएगा जब हमारा ब्लॉग सर्च इंजन फ्रेंडली हो। सर्च इंजन फ्रेंडली बनाने के लिए हम एसईओ को फॉलो करना पद जिस्म ऑन पेज एसईओ भी आता है। की आप एसईओ का बहुत बड़े उनसे को नजरअंदाज कर रहे हैं।
ब्लॉगर ब्लॉग पर पोस्ट चोरी होने से कैसे बचाए

आपको Onpage SEO के 10 तकनीकें जो आपके साइट को Search Engine फ्रेंडली बनाने के लिए बहुत मदद करेंगी। तो चली माई आपको बता रही हूं ऑन पेज एसईओ के 10 तकनीकें जो आपको अपने पोस्ट को ऑप्टिमाइज करते समय ध्यान देना चाहिए।

1. ब्लॉग पोस्ट परमालिंक

आपको अपने पोस्ट के यूआरएल में सिर्फ पोस्ट से संबंधित कीवर्ड्स हाय यूज करे।
आपको अपने URL में अल्पविराम, विशेष वर्ण, प्रतीक और भी बहुत कुछ है जो आपको अपने URL में मैं उपयोग नहीं करना चाहिए।
आप अपने यूआरएल में अक्षर और नंबर इस्तेमाल कर सकते हैं। और अपने यूआरएल को छोटा ही रखा।
बहुत से ब्लॉगर्स पोस्ट लिखने के बाद डायरेक्ट पोस्ट को सबमिट करते हैं। तो मैं आपको कहूंगा की आप एसईओ ट्रिक्स का उपयोग करने के बाद ही पोस्ट को प्रकाशित करें।

2. ब्लॉग पोस्ट शीर्षक

आप पोस्ट का शीर्षक थोडा सा अनोखा रखा जिस पर क्लिक करें। महत्वपूर्ण, बेस्ट और भी बहुत लोकप्रिय कीवर्ड का उपयोग कर सकते हैं। लेकिन आप ये ध्यान रखे की आप एक कीवर्ड को बार बार रिपीट ना करे। आपके टाइटल में 65 कैरेक्टर से जदा नहीं होना चाहिए नहीं पाठकों के लिए शीर्षक पदे ही नहीं है उसे नजरअंदाज कर देते हैं और फिर वो पोस्ट भी नहीं पढ़ते।

3. इमेजेज को यूज और ऑप्टिमाइज़ करें।

आप जो भी इमेजेज अपने पोस्ट मी यूज करते हैं उसमे ऑल्ट टैग ऑट टाइटल जरूर ऐड करे। आप अगर आपने पोस्ट मी एक भी इमेज नहीं यूज करते हैं तो पोस्ट बहुत बोरिंग बन जाता है और फिर कोई पद भी नहीं है। लेकिन ऐसा नहीं है की आप अपने पोस्ट मी वर्ड्स काम लिखे औ इमेजेज यादा डेल। टू इमेजेज को करें लेकिन जब जरुरत पद टैब का इस्तेमाल करें।
आप छोटी साइज का इमेज का इस्तेमाल करें। जैसे आप पीएनजी इस्तेमाल करते हैं तो आप जेपीजी करें करे। क्यू की जेपीजी फाइलें पीएनजी से छोटी होती है। हू मैटलैब उसका आकार छोटा कर देता है। मैं किसी सॉफ्टवेयर का नहीं एक वेबसाइट है tinyjpg.com के नाम से जो पीएनजी और जेपीजी फाइलों को सिकुड़ती है। अगर आप बड़े साइज का इमेज इस्तेमाल करेंगे तो आपका पेज बहुत धीमा खुल जाएगा। मैं आपको बता रहा हूं कि आपको कैसे इमेज का इस्तेमाल करना चाहिए।

आप जेपीजी या जेपीईजी इमेज को इस्तेमाल करेंगे तो बेहतर होगा।
आप पीएनजी इमेज को मैट यूज करे क्यों की बहुत से ब्राउजर है जो पीएनजी को फुल सपोर्ट नहीं करता। और पीएनजी फाइल्स जेपीजी और जेपीईजी से बड़ा होता है।
जीआईएफ इमेज को अवॉइड हाय कर्ण। अगर आपको फिर भी gif Images को इस्तेमाल करना है तो कम पिक्सल वाले इस्तेमाल करना जैसा 10*10 pixel।

4. लंबी पोस्ट लिखें

सर्च इंजन से ट्रैफिक पाना है तो आपको लंबा पोस्ट लिखना मिलेगा। क्यों की जितना लंबा पोस्ट होगा उसमे उतना ज्यादा कीवर्ड्स है तो अगर किसने कुछ सर्च किया तो आपके पोस्ट में वो कीवर्ड्स हो सकता है जिसे आपको ब्लॉग फर्स्ट पेज पे आ जाएगा। अगर पोस्ट को लंबा करने के लिए बार बार एक ही कीवर्ड्स का उपयोग करें तो फिर हो सकता है आपका पोस्ट सर्च जैसे मैं जल्दी न आए। तो आप काम से काम 700 शब्द का पोस्ट तो लाइके। से जानकारी पता कर सकते हैं आप यूएस पोस्ट को लंबा कर सकते हैं और अपने विज़िटर्स को सही जानकर दे पाए.ब्लॉग मी से नॉन-रिमूवेबल विजेट कैसे निकालें करे

5. बाहरी वेबसाइट लिंक करें

इस्का मैटलैब ये है की आप अपने ब्लॉग पोस्ट में दसरो वेबसाइट का लिंक भी जोड़ें। लेकिन विश्वसनीय वेबसाइट का लिंक हाय ऐड करे फर्जी या स्पैम साइट का लिंक कभी भी सर्च इंजन में मत करना नहीं जोड़ें आपकी साइट को भी स्पैम, और आपकी रैंकिंग एकदम डाउन हो जाएगी। अगर आप किसी भरोसेमंद वेबसाइट का लिंक डालते है तो आपको बैकलिंक भी मिलेगा। लेकिन अगर आपको शक है कि वेबसाइट स्पैम है तो यूएस लिंक मी नोफॉलो का टैग जरूर इस्तेमाल करना जिस कोई लिंक जूस पास नहीं होगा।
टू आप अगर किसी वेबसाइट का लिंक ऐड करता है टू डूफॉलो लिंक होता है जिसमे लिंक जूस पास होता है जिसे सर्च इंजन को लगेगा की आपकी साइट यूएस साइट से लिंक करता है। अगर वो साइट अच्छी हुई तो आपको बैकलिंक मिलेगा जिस से आपकी रैंकिंग में सुधार होगा .विश्वसनीय वेबसाइट के लिए आप डूफॉलो लिंक जो की डिफ़ॉल्ट लिंक है उससे करे और स्पैम साइटों का उपयोग करें और आप हमें लिंक करें नोफॉलो का टैग लगा सकते हैं।

6. शीर्षक टैग का प्रयोग करें

आपको अपने पोस्ट मी हेडिंग टैग जैसे एच1, एच2, एच3, एच4, एच5, एच6 इस्तेमाल करना चाहिए। आप एच1 टैग अपने पोस्ट टाइटल के लिए हाय यूज करना। एच2 और एच3 टैग को बार बार मैट यूज करना इसे सर्च रैंकिंग में बुरा असर पदेगा.आप H1 टैग को सिरफ एक बार हाय पोस्ट मी यूज करे।

7. आंतरिक लिंक का प्रयोग करें

आप अपने पोस्ट में अपने दसरे पोस्ट का लिंक भी जोड़ें। क्यू की एसईओ के लिए ये अच्छा होता है। और इसलिय क्यू की अपने दसरे पोस्ट का लिंक दसरे पोस्ट में करने से आपकी खोज रैंकिंग बड़ेगी। आप अपने पोस्ट में सिर्फ यूएससी पोस्ट का लिंक ऐड करे जो की उस श्रेणी में आता है जिसके बारे में आप पोस्ट जैसे रहे हैं। जैसे अगर आप ब्लॉगिंग के बारे में पोस्ट लिख रहे हैं तो आप यूएस पोस्ट मुझे ब्लॉगिंग से संबंधित दसरे पोस्ट का लिंक हाय जोड़ें करे नकी फेसबुक या किसी और श्रेणी के पोस्ट लिंक।

8. मेटा टैग पोस्ट करें

मेटा टैग आपके पोस्ट को सर्च रैंकिंग मी फर्स्ट पेज पे लेन के लिए बहुत मदद करता है। संबंधित और मुख्य कीवर्ड जैसे.और आप मेटा टैग 160 शब्द से जड़ मैट जैसे। अगर आप मेटा टैग सही से लिखेगे तो आपको क्लिक थ्रू रेट बेहतर मिलेगा।

9. कीवर्ड घनत्व

कीवर्ड डेंसिटी का मैटलैब है की आपने कीवर्ड को कितने बार उपयोग किया है प्रतिशत। जैसे अगर आपके एक पोस्ट लिखा जो की 100 शब्द का है और आपके कोई कीवर्ड 10 बार उपयोग किया तो आपका कीवर्ड घनत्व है 10%। बहुत ब्लॉगर्स को ये लगता है की अगर आप किसी कीवर्ड को बार बार दोहराएं करेंगे तो आपकी रैंकिंग में सुधार होगा लेकिन ऐसा नहीं है। आप किसी कीवर्ड को 1.5% से ज्यादा चटाई का उपयोग करें।
आप कीवर्ड्स को हाइलाइट करने के लिए बोल्ड, इटैलिक और अंडरलाइन ये सब इस्तेमाल कर सकते हैं।
Blog Ki Photo Par राइट क्लिक डिसेबल कर कॉपी होन से कैसे बचाए हिंदी में जाने

10. पेज लोडिंग स्पीड

सिंपल बात है अगर आपके साइट के पेज को ओपन होना बहुत टाइम लगता है तो विजिटर्स के लिए करना नहीं चाहेंगे। सर्च इंजन से ज्यादा व्यू मिल सकते हैं। तो काम से आपकी साइट 3 या 4 सेकेंड के अंदर खुल जानी चाहिए। साइट की लोडिंग स्पीड बढ़ाएं कर सकते हैं।

कोई फास्ट लोडिंग वाली टेम्प्लेट यूज़ करे।
आप अपने होमपेज पे जदा से जदा 5 पोस्ट शो कराये।
आप होमपेज पे जदा ऐड्स ना यूज करे। आप ऐड्स को अपने पोस्ट मी यूज कर सकते हैं।
अपने पोस्ट मी कम साइज वाले इमेज यूज करे।
फालतू विजेट्स को इस्तेमाल ना करें। आपको मुझे बता दू अगर आप फेसबुक लाइक बॉक्स को अपने साइट से निकलेंगे और फिर अपनी साइट को ओपन करेंगे तो आपको बहुत फर्क मालम पैड जाएगा।
टू यू कुछ टिप्स है जो नए ब्लॉगर्स को फॉलो करना चाहिए। अगर आपके साइट का लोडिंग टाइम स्लो हुआ तो सबसे बड़ा करन होगा आपको विजिटर्स कम मिलने और सर्च इंजन से व्यू मिल्ने मी।
ब्लॉगर में सुंदर फ्लोटिंग संपर्क फ़ॉर्म विजेट कैसे जोड़ें
मैंने आपको ऑन पेज एसईओ के 10 तकनीक बताया है जिससे आप अपनी साइट को सर्च करें मुझे फर्स्ट पेज पे रैंक करा सकता है। अगर आप भी को ऑन पेज एसईओ तकनीक का उपयोग करें जिस्के बारे में मैंने ना बताया हो कृपया कमेंट करने के लिए करें। और अगर कोई सवाल या विषय समाज नहीं आया तो जरूर करना टिप्पणी करें।

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो इसे शेयर करना ना भूले।

Leave a Comment